ओरल सेक्स से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्ये जो आपकी सेक्स लाइफ को बना सकते है अधिक रोमांचक

लोगों को लगता है कि सेक्स से जुड़ा कुछ भी करो, आपकी वर्जिनिटी चली जाएगी, जबकि ऐसा है नहीं. जब आपके सेक्सुअल ऑर्गन्स एक-दूसरे से मिलते हैं, तब वर्जिनिटी जाती है. दूसरे शब्दों में कहें, तो वर्जिनिटी के लिए फिज़िकल पेनिट्रेशन ज़रूरी है. ओरल सेक्स करने से वर्जिनिटी नहीं जताई है.

ओरल सेक्स से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्ये जो आपकी सेक्स लाइफ को बना सकते है अधिक रोमांचक

क्या आप जानते है की ओरल सेक्स हाइजेनिक भी हो सकता है इस से बचने के लिए अगर आप और आपका पार्टनर साफ़-सफ़ाई का ध्यान रखते हैं, तो आपको यह सोचने की ज़रूरत नहीं है.

यह प्रॉब्लम वहां आती है, जहां एक से ज़्यादा पार्टनर्स होते हैं. एक्सपर्ट कहते हैं कि अपने प्राइवेट पार्ट्स को हमेशा साफ़-सुथरा रखें. ओरल सेक्स से पहले और बाद में अपने प्राइवेट पार्ट्स को क्लीन करें. शाम को घर लौटने पर शावर लें. आपकी फ्रेशनेस आपके रिश्ते को भी फ्रेश रखेगी.

ओरल सेक्स ऑर्गैज़्म के लिए सबसे अच्छा तरीका है यह फोरप्ले की तरह होता है पर इसमे ऑर्गैज़्म की पूरी सम्भावना होती है, ख़ासतौर से महिलाओं के ऑर्गैज़्म के चांसेस इसमें ज़्यादा होते हैं। 

ओरल सेक्स से इन्फेक्शन का चांस भी रहता है। जिसके के लिए सावधानी रखना बहुत जरुरी है। जैसे की हर्बल लुब्रिकेंट्स का ही इस्तेमाल करे और सफाई का बहुत ध्यान रखे। 

कुछ लोगो का मानना है की ओरल सेक्स में कंडोम की क्या ज़रूरत है। यह बहुत आश्‍चर्य की बात है कि मार्केट में फ्लेवर्ड कंडोम की बहुत सारी रेंज आ गई है, बावजूद इसके लोगों को इसकी जानकारी है.

एक्सपर्ट कहते हैं कि कंडोम के फ्लेवर्ड लुब्रिकेंट को लेकर ज़्यादातर महिलाओं में यह झिझक रहती है कि कहीं उसका लुब्रिकेंट उनकी सेहत के लिए नुक़सानदायक हो सकता है. जबकि उन्हें यह समझना चाहिए जो चीज़ ओरल सेक्स में सुरक्षा के लिहाज़ से ही बना हो, भला उसमें क्या प्रॉब्लम हो सकती है.