बिल्‍ली रास्‍ता काट दे तो क्‍यों रुक जाते हैं आप? क्‍यों माना जाता है अशुभ? इन बातों का जानकर हैरान रह जाएंगे

अक्‍सर ऐसा होता है कि आप कहीं जा रहे हों और अचानक बिल्‍ली रास्‍ता काट दे. चाहे आप इसे अशुभ मानते हों या नहीं, पर एक बार को आपके कदम रुक जाते हैं.

बिल्‍ली रास्‍ता काट दे तो क्‍यों रुक जाते हैं आप? क्‍यों माना जाता है अशुभ? इन बातों का जानकर हैरान रह जाएंगे

हम सब के जीवन में ऐसा कई बार हुआ होगा कि हम घर से निकलते हैं और बिल्ली हमारे रास्ते में आकर इस पार से उस पार चली जाती है इसे रास्ता काटना कहते हैं बिल्ली द्वारा अपशगुन होना, हम सभी के साथ ऐसा कभी न कभी हुआ होगा, किसी अच्छे कार्य के लिये जा रहे हो और बिल्ली रास्ता काट जाये तो उसे हम अपशगुन मानते हैं और सोच में पढ़ जाते हैं कि अब क्या करें-​

1. आमतौर पर सभी की यही धारणा है कि बिल्ली अगर रास्ता काट जाये तो अपशगुन हो जाता है, अगर ऐसा कभी आपके साथ भी हुआ है और आप सोच में पड़ गये कि क्या करें तो थोड़ी देर के लिये रूक जाइये उसी रास्ते से किसी और के गुज़रने का इंतज़ार करिये, कोई और उसी रास्ते से अगर गुज़र जाये तो उससे अपशगुन समाप्त हो जाता है।

2. अगर बिल्ली आपका रास्ता काट जाये और समय की कोई पाबंदी न हो तो अपना रास्ता बदल लें और किसी दूसरे रास्ते पर चले जायें।

3. किसी भी यात्रा पर जाने से पहले या रोज़ाना के सफर पर जाने से पहले घर से पानी पीकर निकलें, ऐसा करने से रास्ते में होने वाले अपशगुन समाप्त हो जायेंगे।

4. घर से निकलने से पहले या किसी भी शुभ कार्य पर जाने से पहले दही खाकर निकलें, दही खाने से रास्ते के अपशगुन दूर हो जाते हैं, ये एक प्रभावशाली टोटका है।

5. अगर बिल्ली बाएं तरफ से रास्ता काटे तो अशुभ नहीं होता मगर दाईं तरफ से रास्ता काटना अपशगुन माना जाता है, यदि बिल्ली ने दाईं ओर से रास्ता काटा है तो निश्चित ही सामने से आने वाले व्यक्ति के लिये वो बाईं ओर हो जायेगा, इसलिये सामने वाले व्यक्ति का उस रास्ते से गुज़रना किसी भी प्रकार से उसके लिये अशुभ परिणाम नहीं देगा, इसलिये जब भी बिल्ली दाईं ओर से रास्ता काटे तो सामने की ओर से किसी के आकर गुज़रने का इंतज़ार करें न कि दाएं या बाएं से।